खुश नसीब होते है बादल जो



खुश नसीब होते है बादल जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते है और एक बदनसीब हम है जो एक ही दुनिया में रहकर भी मिलने को तरसते है

  • poetry
  • poetry hindi
  • poetry english